07 अक्तूबर 2013

क्या सचिन तेंदुलकर की शक्ति boost है

सचिन तेंदुलकर 1 विज्ञापन करता है - boost is secret of my energy अगर सचिन तेंदुलकर की शक्ति boost है । तो आप 1 काम कीजिये । सचिन तेंदुलकर की अम्मा को 1 चिठ्ठी लिखिए । क्या सचिन तेंदुलकर boost पीकर सचिन बना है ? हर साल इस देश के लोग 1500 करोड़ रूपये के विदेशी कंपनियों के health tonic खा जाते हैं । जिसमें हैल्थ के नाम पर कुछ भी नहीं है ।
health tonic  भारत की सबसे बड़ी लैब है delhi all india institute में । वहाँ के head हैं - doctor जैन । उन्होंने test करके बताया । इन सब हैल्थ tonic में क्या है ? हमारे देश में हेल्थ टॉनिक के नाम पर कई विदेशी कंपनियाँ अपने उत्पाद बेचती हैं । जैसे - होर्लिक्स, मालटोवा, बोर्नविटा, कॉम्प्लान, बूस्ट, प्रोटिनेक्स । और खूबी की बात है कि इनमें हेल्थ के नाम पर कुछ भी नहीं है । कैसे ? ये कंपनियां इन हेल्थ 

सप्लीमेंट में मिलाती क्या हैं ? वो भी आप जान लीजिये । मालटोवा, बोर्नविटा, कॉम्प्लान और बूस्ट बनता है - मूंगफली की खली से । खली समझते हैं आप ? मूंगफली, सरसों, आदि का तेल निकालने के बाद जो उसका कचरा waste निकलता है । उसी को खली कहते है । और आप गावों मे जाकर देखो । तेल निकालने के बाद बची हुई इस खली को गाय, बैल, भैंस जैसे जानवरों को खिलाने के लिए प्रयोग किया जाता है । ये मालटोवा, बोर्नविटा, कॉम्प्लान और बूस्ट इसी मूंगफली की खली

से बनाया जाता है । जो खली हमारे देश में जानवरों को खिलाया जाता है । वही इस देश में अपने को पढ़े लिखे गंवार educated idiots बङे शौक से खाते हैं । बाजार में आप चले जाईये । ये मूंगफली की खली 20-25 रूपये प्रति किलो के हिसाब से मिल जाएगी आपको । आप 100 डब्बे भी इन हेल्थ टोनिकों के खा लीजिये । या अपने बच्चों को खिला दीजिये । कुछ नहीं होने वाला उससे । और इसके बदले आप सीधे मूंगफली सिंघदाना दीजिये गुड के साथ । तो जितना प्रोटीन इससे मिलता है । जितनी कार्बोहाईड्रेट इससे मिलती है । या और भी जितनी स्वास्थ्यवर्धक तत्व इससे मिलती है । उतना 100 पैकेट आप boost horlics खाने से भी नहीं मिल सकती । ये अपने डब्बे पर लिखते हैं कि इससे विटामिन मिलता है । प्रोटीन मिलता है । कैल्सियम 

मिलता है । वगैरह वगैरह । लिखने में क्या जाता है ? किसी ने कभी टेस्ट करके कोई सामान ख़रीदा है क्या ? अरे मिटटी में भी 18 तरह के Micro Nutrients होते हैं । तो क्या हम मिटटी खायेंगे ? ऐसा ही 1 और हेल्थ टॉनिक है - हॉर्लिक्स - हॉर्लिक्स में क्या है ? हॉर्लिक्स में है - गेंहूँ का आटा । चने का सत्तू । जौ का सत्तू । बिहार में हम लोग उसको कहते हैं - सत्तू । और अंग्रेजी में कहते हैं - हॉर्लिक्स । आप किसी से पूछिये कि - सत्तू खाओगे ? तो कहेगा कि - क्या फालतू की बात कर रहे हो । और पूछेंगे कि - हॉर्लिक्स खाओगे । तो कहेगा - हाँ हाँ खायेंगे । क्यों  खाएँगे ? http://www.youtube.com/watch?v=9qKhqlS1_LY 
क्योंकि अंग्रेजी का नाम है । और बड़ा भारी नाम है - horlics  सुनने में लगता है । जैसे कुछ imported जैसी चीज है इसमें । उस पर साफ़ साफ़ लिखा है - It's malted  और malted का मतलब ही होता है - जौ का सत्तू । चने का सत्तू । इसे बाजार से खरीद लीजिये 50-60 रूपये किलो मिल जायेगा । और हॉर्लिक्स बिक रहा है 400 रूपये किलो के हिसाब से । अपना दिमाग तो हमने कभी प्रयोग नहीं करना । बस जो tv में दिखाया जाये । उठाकर उसे घर ले आओ । बेशक वो कचरा ही क्यों न बेचते हो । टेनिस का 1 खिलाड़ी है - 

boris becker  जब सर्विस करता है । और गेंद को मारता है । तो उसकी गेंद की रफ्तार होती है - 160 किलोमीटर प्रति घंटा । मतलब ट्रेन भी जिस रफ्तार से नहीं जाती । उस रफ्तार से उसकी मारी हुई गेंद जाती है । और आप देख लीजिये । जब भी खेल 5-10 मिनट के लिए रुकता है । बैग में से केला निकाल निकाल कर खाता रहता है । तो boris becker को शक्ति मिलती है - केला खाने से । सचिन तेंदुलकर कहता है । हमें शक्ति मिलती है - boost पीने से । भारतीय बाजार में जितने हेल्थ टोनिक मिल रहे हैं । उनसे 1 पैसे का हेल्थ नहीं मिलता । और भारत के लोग हर साल 1500 करोड़ का हेल्थ टोनिक खरीद कर पैसा विदेश भेज रहे हैं । सिर्फ mental satisfaction है कि हम बहुत बढ़िया चीज खा रहे हैं । और अपने बच्चों को खिला रहे हैं । और कुछ नहीं ? हमारे

देश के लोग अजीब किस्म के निराशावाद में जी रहे हैं । ये इग्नोरेंस अनपढ़ लोगों में होता । तो मुझे समझ में भी आता । लेकिन भारत के पढ़े लिखे लोगों में ये सबसे ज्यादा है । इनमें मिलाये हुए तत्वों की सूची नीचे दी गयी है । जो कि इनके UK की वेबसाइट से ली गयी है । भारत की वेबसाइट पर ये उपलब्ध नहीं है । क्योंकि इन्हें भारत के लोगों को बेवकूफ बनाना है । 
Ingredients of Horlicks - Wheat Flour ( 55% ) Malted Barley ( 15% ) Dried Whey, Sugar, Calcium Carbonate, Vegetable Fat, Dried Skimmed Milk, Salt, Vitamins ( C, Niacin, E, Pantothenic Acid, B6, B2, B1, Folic Acid, A , Biotin, D, B12 ) Ferric Pyrophosphate, Zinc Oxide.May contain traces of soyabeans.. ये उसका link है । http://www.horlicks.co.uk/downloads/Horlicks-Traditional-2011.pdf http://www.youtube.com/watch?v=9qKhqlS1_LY 
वन्देमातरम ! अमर शहीद राजीव दीक्षित जी की जय ।
***********************
आज सामान्य और अनपढ़ व्यक्ति और बच्चे भी जानते हैं कि विज्ञान इतनी प्रगति कर चुका है कि मानव आकाश की सीमा पार कर अंतरिक्ष में प्रवेश कर चुका है । और मंगल ग्रह पर अपना रोबोट भेज चुका है । 8-10 साल के अन्दर इंसान भी जा सकते हैं मंगल पर । लेकिन मुसलमान इस सत्य को स्वीकार नहीं करते । और किसी के द्वारा अंतरिक्ष में प्रवेश करने को असंभव बताते हैं । क्योंकि उनके अल्लाह ने कुरआन में ऐसी ही डींग मारने वाली बात कही हैं । अल्लाह ने चुनौती देकर कहा - हे मनुष्यों ! और जिन्नों के गिरोह, यदि तुममें इतनी सामर्थ्य हो । तो तुम धरती से आकाश सीमाओं से बाहर निकलो । और निकल कर बताओ । तुम निकल ही नहीं सकते ।
-  َﺎ ﻣَﻌْﺸَﺮَ ﺍﻟْﺠِﻦِّ ﻭَﺍﻟْﺈِﻧْﺲِ ﺇِﻥِ ﺍﺳْﺘَﻄَﻌْﺘُﻢْ ﺃَﻥْ ﺗَﻨْﻔُﺬُﻭﺍ ﻣِﻦْ
ﺃَﻗْﻄَﺎﺭِ ﺍﻟﺴَّﻤَﺎﻭَﺍﺕِ ﻭَﺍﻟْﺄَﺭْﺽِ ﻓَﺎﻧْﻔُﺬُﻭﺍ ﻟَﺎ ﺗَﻨْﻔُﺬُﻭﻥَ ﺇِﻟَّﺎ
ﺑِﺴُﻠْﻄَﺎﻥٍ  Quran, Sura Rahman 55:33
इस आयत से सिद्ध होता है कि मुसलमानों का अल्लाह सर्व ज्ञानी नहीं । बल्कि कोई अरब का जंगली और मूर्ख

 व्यक्ति रहा होगा । जबकि वेदों में ईश्वर ने स्पष्ट शब्दों में अंतरिक्ष में जाने को संभव बताया है । वेद में कहा है ।
यो अन्तरिक्षे रजसो विमानः कस्मै देवाय हविषा विधेम । यजुर्वेद अध्याय 32 मन्त्र 6
अर्थ - जो ईश्वर हमें विशेष विज्ञान युक्त विमान से अंतरिक्ष का भ्रमण कराता है । हमें उसी ईश्वर की उपासना करना चाहिए ।
अर्थात अल्लाह की इबादत करने वाले उसी की तरह जाहिल और मूर्ख बने रहेंगे । ऐसे लोग सिर्फ आतंकवादी ही बन सकते हैं । साभार - Hindurashtra

***********************
How will Russia defend the Earth from asteroids ?  Russia & India Report - Russian researchers have been developing systems to gather data on the most dangerous threats to the planet and to destroy them, if need be. Yet a specific strategy for neutralizing space threats is still to be developed
http://indrus.in/...
***********************
http://beforeitsnews.com/blogging-citizen-journalism/2013/10/37-states-prepapare-for-the-end-of-the-world-october-17th-2013-2449058.html
***********************
1 बार 1 भारतीय व्यक्ति मरकर नर्क में पहुँचा । तो वहाँ उसने देखा कि प्रत्येक व्यक्ति को किसी भी देश के नर्क में जाने की छूट है । उसने सोचा । चलो अमेरिका वासियों के नर्क में जाकर देखें । जब वह वहाँ पहुँचा । तो द्वार पर पहरेदार से उसने पूछा - क्यों भाई ! अमेरिकी नर्क में क्या क्या होता है ?
पहरेदार बोला - कुछ खास नहीं । सबसे पहले आपको 1 इलेक्ट्रिक चेयर पर 1 घंटा बैठाकर करंट दिया जायेगा । फ़िर 1 कीलों के बिस्तर पर आपको 1 घंटे लिटाया जायेगा । उसके बाद 1 दैत्य आकर आपकी जख्मी पीठ पर 50 कोडे बरसायेगा । बस । यह सुनकर वह व्यक्ति बहुत घबराया । और उसने रूस के नर्क की ओर रुख किया । और वहाँ के पहरेदार से भी वही पूछा । रूस के पहरेदार ने भी लगभग वही वाकया सुनाया । जो वह अमेरिका के नर्क में सुनकर आया था । फ़िर वह व्यक्ति 1-1 करके सभी देशों के नर्कों के दरवाजे जाकर आया । सभी जगह 

उसे 1 से बढकर 1 भयानक किस्से सुनने को मिले । अन्त में थक हार कर जब वह 1 जगह पहुँचा । देखा । तो दरवाजे पर लिखा था - भारतीय नर्क । और उस दरवाजे के बाहर उस नर्क में जाने के लिये लम्बी लाइन लगी थी । लोग भारतीय नर्क में जाने को उतावले हो रहे थे । उसने सोचा कि जरूर यहाँ सजा कम मिलती होगी । तत्काल उसने पहरेदार से पूछा कि - यहाँ के नर्क में सजा की क्या व्यवस्था है ?
पहरेदार ने कहा - कुछ खास नहीं । सबसे पहले आपको 1 इलेक्ट्रिक चेयर पर 1 घंटा बैठाकर करंट दिया जायेगा । फ़िर 1 कीलों के बिस्तर पर आपको 1 घंटे लिटाया जायेगा । उसके बाद 1 दैत्य आकर आपकी जख्मी पीठ पर 50 कोडे बरसायेगा..बस । चकराये हुए व्यक्ति ने उससे पूछा - यही सब तो बाकी देशों के नर्क में भी हो रहा है । फ़िर यहाँ इतनी भीड क्यों है ? 
पहरेदार बोला - इलेक्ट्रिक चेयर तो वही है । लेकिन बिजली नहीं है । कीलों वाले बिस्तर में से कीलें कोई निकाल ले गया है । और कोडे मारने वाला दैत्य सरकारी कर्मचारी है । आता है । दस्तखत करता है । और चाय नाश्ता करने चला जाता है । और कभी गलती से जल्दी वापस आ भी गया । तो 1-2 कोडे मारता है । और 50 लिख देता है । चलो आ जाओ अन्दर ।
***********************
अगर 20 करोड़ मुस्लिम 1 होकर अपने मन माफिक सरकार और कानून बनवा सकते हैं । तो हम 100 करोड़ हिन्दू क्या झक मारने के लिए हैं ?? जागो मेरे हिन्दू । कापी पेस्ट ।
***********************
27 वर्ष का भगवाधारी भारत के सबसे बड़े कालेज IIT kanpur में बच्चों को भगवदगीता का ज्ञान दे रहा है । और इनकी अदभुत अंग्रेजी सुनकर सारे अंग्रेज शर्मिंदा हो जाए । चेहरे पर अजीब सी चमक । और भाषा में शालीन आकर्षण । मात्र 27 वर्ष के स्वामी सर्वप्रियानन्द ने IIT KHARAGPUR से BIM में टॉप किया । और ईश्वर की प्राप्ति के लिए अपने cool dude वाले जीवन को लात मारकर एक सन्यासी बन गए । मैंने गलती से इनका lecture you tube पर सुना । और क्या बताऊँ । कैसा अनुभव हो रहा है । अभी तक 17 बार सुन चूका हूँ । एक बार मरने से पहले ये जरुर देख लेना । जीवन सफल हो जाएगा । admin - taku
http://youtube.com/watch?v=_EqwlOeTj7Y&guid&client=mv-google&gl=IN&hl=en
***********************
दीपक चौरसिया की बजी बैंड
http://www.youtube.com/watch?v=zKtzsqTrryU&feature=youtu.be
एक टिप्पणी भेजें