06 अक्तूबर 2013

प्रथ्वी कहीं लुढक न जाये - अल्लाह मियां

हमें बचपन से ही 1 बात घुट्टी की तरह पिलाई जाती है कि - सभी धर्म समान हैं । लेकिन हकीकत में जब हम सभी धर्म और सभी धर्म ग्रंथों में लिखी बातों का तुलनात्मक अध्ययन करते हैं । तो हमें हिन्दू सनातन धर्म ग्रन्थ के अलावा अन्य सभी धर्म ग्रंथों और उसमें लिखी बातें काफी अवैज्ञानिक तथा हास्यास्पद सी लगती हैं । इसीलिए कभी कभी ये संदेह सा उत्पन्न होने लगता है कि कहीं " सर्व धर्म समभाव " का नारा अन्य सभी अवैज्ञानिक एवं बेतुके धर्मों को महान एवं पूर्णतः वैज्ञानिक हिन्दू धर्म के समकक्ष खड़ा करने का 1 कुत्सित प्रयास तो नहीं है ?? आज मैं " सर्व धर्म समभाव " के नारे की चड्डी उतारने के लिए सभी धर्मों में लिखे खगोल विज्ञान की जानकारी को ही उठाता हूँ । क्योंकि सदियों से आकाश सूर्य चन्द्र और तारे हम मनुष्यों को विस्मित करते रहे हैं । सबसे पहले हम हमारे हिन्दू धर्म और, हमारे " धर्म ग्रन्थ वेद " को देखते हैं । हमारे वेद लाखों वर्ष पूर्व लिखे गए हैं । और वेद के अनुसार - पृथ्वी गोल है । और सूर्य के चारो और अपनी धुरी पर घूमती है ( ऋग्वेद 1/11/15 ) और हमारे वेदों से ज्ञान प्राप्त करके गैलीलियों ने 1626 के आसपास यही बात ईसाईयों को बतलाई । तो उस समय के पोप ने उसे 10 वर्ष का 

कारावास दे दिया । क्योंकि ईसाई पंथ और उनके बाइबल के अनुसार सूर्य प्रथ्वी के चारो और घूमता है । अब हम जरा इस्लाम की ओर भी नजर दौडाते हैं । जिसे मुस्लिम सर्वश्रेष्ठ धर्म बताते नहीं अघाते हैं । इस्लाम के धर्म ग्रंथ कुरआन जिसकी व्याख्या इब्नेक्सीर ने की । खगोल की जानकारी पेज 27 के पारा 13 पर और पेज 48 के पारा 27 पर मिलती है । और मजे की बात है कि दोनों ही स्थान पर पृथ्वी को चपटा कहा गया है । यहाँ तक कि 1969 में जब आदमी चाँद पर पहुँचा । और जब उसने कहा कि - मुझे चाँद से पृथ्वी गोल नजर आती है । तो अरब के सुल्तान फैसल ने इसका विरोध करते हुए कहा कि - यह

बिलकुल झूठ है । क्योंकि कुरआन के अनुसार तो पृथ्वी चपटी है । कुरआन के अनुसार । जिसे मकतब अलाहसनात रामपुर ने प्रकाशित किया है, के पारा 14, सूरा 16, आयत 15 में अल्लाह की वाणी है । जिसमें अल्लाह ने बताया है कि अल्लाह ने धरती पर पहाड़ क्यों बनाए ? जरा आप भी अल्लाह की उस वाणी को सुनें । और खुद ही समझने का प्रयास करें । तथा इस्लामी ज्ञान बढ़ाएं ।
- और उस खुदा ने धरती में अटल पहाड़ ड़ाल दिए । ताकि वह तुम्हें लेकर लुढ़क न जाय । 
और तो और कुरआन के लखनऊ के संस्करण में उपरोक्त आयत का अर्थ दिया है - और पहाड़ जमीन पर गाड़े गए । ताकि जमीन तुम्हें एक तरफ लेकर लुढ़क न जाय । यह सचमुच में काफी हास्यप्रद बात है कि कुरआन का अल्लाह ये भी नहीं जानता कि पृथ्वी चपटी नहीं । बल्कि गोल है । वारी जाऊँ । मैं तो अल्लाह के ऐसे ज्ञान और खुदाई पुस्तक कुरआन पर ।
जबकि हमारा यजुर्वेद साफ साफ कहता है कि - यह भूगोल पृथ्वी जल और अग्नि के निमित्त अर्थात उत्पन्न हुई । अपनी कक्षा में सबकी रक्षा करने वाले सूर्य के चारों तरफ घूमती है । और इसी से दिन रात, ऋतु और अन्य आदि काल विभाग से संभव होते हैं । (यजुर्वेद 3/6)
अब सारी सच्चाई आपके सामने है । और आप स्वयं ही सोचें कि क्या पृथ्वी को बनाने वाले अल्लाह को इतना भी ज्ञान नहीं कि - पृथ्वी गोल है । या चपटी ? अब सारी 

बातें जानकर मुझे तो इस बात की बहुत ही चिंता हो रही है कि पृथ्वी पर डाले गए पहाड़ कहीं मोहम्मद की कब्र उसकी कुरआन और उसके शिष्यों को ही लेकर ना लुढ़क जाए । 
जय महाकाल ! नोट - यह लेख किसी की धार्मिक भावना को आहत करने के लिए नहीं लिखी गयी है । बल्कि सभी को सभी धर्मों की जानकारी देने के पवित्र उद्देश्य से लिखी गयी है । https://www.facebook.com/photo.php?fbid=502173069878365&set=a.133301843432158.26463.100002570289510&type=1&theater
**********
दोस्ती कोई खोज नहीं होती । यह हर किसी से हर रोज नहीं होती । अपनी जिन्दगी में हमको वे वजह मत समझना । क्योंकि पलक कभी आखों पर बोझ नहीं होती । Pandey PhoolChandra

***********
शादी समारोह के दौरान प्रियंका ( दुल्हन ) के पिता बाबूलाल सामान बस में रख रहे थे । उन्होंने पास में खड़े वर पक्ष के कुछ लोगों से सहायता करने को कहा । इतना सुनते ही उन लोगों ने बाबूलाल की लात घूसों से पिटाई कर दी । ये सब होता देख प्रियंका ने बलवीर ( दूल्हा ) से बीच बचाव करने को कहा । पर बलवीर भी मूकदर्शक होकर खड़ा रहा । प्रियंका ( दुल्हन ) को अपने पिता का अपमान ना सहा गया । और उसने दूल्हे की कालर पकड़कर कई झापड़ रसीद कर दिए ।
***********
क्या फ्री में लेपटाप चाहिए ? मुफ्त में चावल चाहिए ?
मुफ्त में साइकिल चाहिए ? मुफ्त में बिजली चाहिए ?

आपका जवाब है हाँ - तो कांग्रेस चुनिए ।
---------
क्या आप को रोजगार चाहिए ? भृष्टाचार मुक्त भारत चाहिए ?
मंहगाई मुक्त भारत चाहिए ? विकसित भारत चाहिए ?
आप का जवाब है हाँ - तो भाजपा चुनिए ।
नई सोच । नई उम्मीद । एक ही विकल्प मोदी EK Hi Vikalp Modi
***********
हिन्दुओं की जनसंख्या कम करने के लिए और भारत को मुस्लिम देश और मुगलिस्तान बनाने का षडयन्त्र । हम सभी जानते हैं कि भारत में फलों का मार्केट पूरा मुसलमानों के हाथो में है । और ज्यादातर फलों की दुकान मुल्लों की ही होती है । ये मुल्ले इन फलो में धीमा जहर ( स्लो पायजन ) मिलाकर हिन्दुओं को मारने की साजिश रच रहे हैं । उसके लिए उन्होंने एक खास फल को चुना है । वो है - सेव । क्योंकि यह मुख्य रूप से मुस्लिम बाहुल्य कश्मीर से आता है । और सारे भारत में वितरित होता है । सेव कश्मीर से लेकर आपके शहर तक का सफर तो ठीक से तय करता है । लेकिन जैसे ही यह आपके शहर आता है । रातों रात मुल्ले इसमें प्रतिबंधित कीटनाशक और केमिकल जैसे कि गेमेग्जिन, एंडो, डी.डी.टी, थैलियम आदि की विषाक्त सुई का इंजेक्शन देते हैं । जिससे कैन्सर, नपुंसकता, शुक्राणुओं की कमी आदि रोग हो रहे हैं ।  खासकर हिन्दुओं में कैन्सर बढ़ा है । इन फलों के कारण । मुल्ले कहते हैं - सेवों को सड़ने से बचाने के लिए इंजेक्शन दिया जाता है । लेकिन होता बिलकुल इसका उल्टा । जिस जगह पर इंजेक्शन दिया जाता है । वही भाग पहले सड़ जाता है । यह स्पष्ट साजिश है । हिन्दुओं को विष देने की । कैसे पहचानें । और बचे इन जहरीले सेवों से ।
1 जहरीले सेव स्वादहीन होते हैं ।
2 जहरीले सेव को जिस जगह इंजेक्शन दिया जाता है । वह भाग पहले सड़ जाता है ।
3 जहरीले सेवों को खाने से कुछ कुछ मुलतानी मिटटी की तरह स्वाद आता है । 
4 और अंत में यही कहना चाहूँगा कि सेव खरीदते समय अत्यंत सावधानी बरतें । हिन्दुओं की बस्ती के नजदीक सेव नहीं खरीदें । और किसी बड़े मस्जिद या मुल्लों की बस्ती के पास से फल खरीदें । जहाँ यह इंजेक्शन नहीं लगाया जाता है ।
https://www.facebook.com/photo.php?fbid=530918310255324&set=a.206639126016579.61492.100000114802418&type=1&theater
***********
पाकिस्तान में मोबाइल रखने के कारण महिला की पत्थर मारकर नृशंस हत्या । पाकिस्तान में एक युवा स्त्री जो 2 बच्चोँ की माँ थी को सज़ा ए मौत दे दी गयी । उस बेकुसूर का कुसूर सिर्फ़ ये था कि वह अपने पास मोबाइल फ़ोन रखती थी । हाल ही ...पूरा पढने हेतु लिंक पर क्लिक करें ।  kharinews.com
***********

अमेरिकी शटडाउन का मुख्य कारण पता चल गया है । दरअसल वहाँ की इलुमिनाटी इतनी डर गयी है कि घबरा कर अपने पहले से बनाए हुए डेनवर में भूमिगत शहर ( underground city ) में छिप गयी है । क्योंकि नासा ने चेतावनी दी है कि एक धूमकेतु " ईसन " पृथ्वी से टकराने वाला है । भारी विनाश ...इस तथ्य को गोपनीय रखा गया है । सार्वजनिक नहीं किया गया है । http://beforeitsnews.com/space/2013/10/govt-underground-fleeing-comet-ison-7-clues-from-a-beforeitsnews-reader-2466928.html
*************
आसाराम बापू का खुलासा
http://www.youtube.com/watch?v=vmDm2gn3cMo
Asaram Bapu's controversial clip
www.youtube.com
*************
तो हे भक्तजनो ! तैयार हो जाईए । नवरात्र का मौसम आ गया है । फटाफट देवी की उपासना में डूब जाईए । आपके लोक परलोक सुधर जायेंगे । पूरे साल इतने पाप कर्म किए हैं । दुष्टताएं की हैं । सब धुल जाएंगे । व्रत रखिए । कन्याओं का पूजन कीजिए । देवी की बड़ी बड़ी मूर्तियां स्थापित कीजिए । और वहाँ जोर जोर से डीजे चलाईए । फिल्मी धुनों पर बने भजन सुनिए । कूद कूद कर डांस कीजिए । देवी आपसे अत्यन्त प्रसन्न होंगी । 

और धन धान्य और सुखों से आपके जीवन को भर देंगी । पूरे साल डट के मांस खाईए । अंडे भसकिए । मदिरा की बोतलें खाली कीजिए । लेकिन बस ये नौ दिन अपने पर काबू रख लीजिए । आखिर साल भर के पाप धोने हैं कि नहीं ?
आप बिलकुल चिन्ता न करें । पूरे साल जम कर गर्भ परीक्षण कराएं । और बच्चियों को पैदा होने से पहले ही गर्भ में मारते रहिए । गलती से पैदा हो जाएं । तो उनको लड़के से आधा खाना देना नहीं भूलिए । और उसे कुछ खास पढ़ाने लिखाने की जरूरत नहीं है । उसे बस शादी के हिसाब से पालिए । उसकी जिन्दगी का परम लक्ष्य यही है कि वो जवान हो । उसकी शादी की जाए । बच्चे पैदा करे । घर संभालें । और फिर एक दिन मर जाए ।
आराम से पूरे साल बलात्कार करते रहिए । छेड़खानी करते रहिए । अभद्र टिप्पणियां करना भी नहीं भूलिए । घूरना तो खैर आपका जन्मसिद्ध अधिकार है । उसे कभी मत छोड़िएगा । मां बहन की गालियां बेझिझक दीजिए । घरों से लेकर स्कूलों तक नन्ही बच्चियों से युवतियों तक का शोषण जारी रखिए । कोई चिन्ता मत कीजिए । आप कुछ भी कर लें । नवरात्र में जब आप देवी की उपासना करेंगे । तो आपके सब दुष्कर्म माफ हो जाएंगे । और आप सीधे बैकुण्ठ लोक में जाएंगे ।
Piyush Pounikar
*************
DEEP UNDERGROUND MILITARY BASES IN AMERICA in Denver
http://nstarzone.com/CODERED.html
*************
37 States Prepare For The End of The World OCTOBER 17TH 2013 | Blogging/Citizen Journalism
AFTER GOVT. SHUTDOWN, 37 STATES PREPARE FOR THE END OF THE WORLD OCTOBER 17TH 2013 At 10:17 a.m. on Oct. 17, millions of people in 37 states, the District of Columbia and portions of several countries are expected to ‘Drop, Cover and Hold On’ as...
http://beforeitsnews.com/...
एक टिप्पणी भेजें