19 अक्तूबर 2013

तुम तो बस नाचने वाली बँदरी हो

अगर 1 मुसलमान 2 हिंदू लड़कियों से शादी करके 12 बच्चे पैदा करे । तो केवल 24 साल में मुस्लिम भारत पर कब्ज़ा कर लेंगे । हाल ही में पुलिस ने 1 ऐसे ही युवक को पकड़ा है । इस युवक का नाम वसीम अकरम है । वह फेसबुक पर दक्ष शर्मा के नाम से प्रोफाइल बनाकर हिंदू युवतियों को फंसाता था । फिर उनका शारीरिक शोषण करता था । पुलिस ने अकरम को नजीराबाद से पकड़ा है । वसीम ने पूछताछ में बताया कि लव जिहाद के नाम से ये सब कुछ चल रहा है । इससे जुड़े कट्टरपंथी हिंदू लड़कियों को फंसाकर उनसे शादी कर लेते हैं । इसका मुख्य संगठन ढाका में है । तथा हिंदुस्तान में इसका मुख्य संगठन केरल में है ।  इस संगठन का मानना है कि अगर 1 मुस्लिम युवक 1 हिंदू लड़की से शादी करके 6 बच्चे पैदा करे । तो हिंदुस्तान को इस्लामिक राष्ट्र बनाने में 40 साल लगेंगे । और अगर 1 मुसलमान 2 हिंदू लड़कियों से शादी करके 12 बच्चे पैदा करे । तो केवल 24 साल में मुस्लिम भारत पर कब्ज़ा कर लेंगे । वो कहते हैं कि हिन्दू लड़की से शादी करने से 1 तरफ हम हिंदू आबादी को बढ़ने से रोकते हैं । तो दूसरी तरफ मुस्लिम आबादी बढाते हैं । अकरम ने बताया कि मुल्ला मौलवी 

मुस्लिम बालीवुड सितारों से कहते हैं कि वे कम से कम 2 हिंदू लड़कियों से शादी करें । जिससे कि देश में हिन्दू लड़कियों में मुस्लिम लड़कों के प्रति सहानुभूति बने । वो भी सितारों की नक़ल करके मुस्लिम लड़कों के प्रेम जाल में आसानी से फंस जाएं । हिन्दुस्तान को " दारुल हरब " से " दारुल इस्लाम " बनाने का जो इनका उद्देश्य है । ये उसी की 1 कड़ी है । कुछ साल पहले आप जानते हैं कि केरल में इसके 2500 मामले सामने आये थे । जिसमें पकडे गए आतंकवादियों ने इसके बारे में सब बताया था । और तहकीकात करने पर ये सारे मामले सामने आये । लेकिन अब तो ये पूरे देश में फ़ैल चूका है । ये इनका गजवा ए हिन्द ( हिंदुस्तान पर फतह ) का 1 हिस्सा है । जो इनकी ( मुसलमानों की ) किताबों में लिखा है कि

पाकिस्तान भविष्य में हिंदुस्तान पर फतह करेगा । और पूरा हिंदुस्तान 1 मुस्लिम मुल्क होगा । आप " गजवा ए हिन्द " के बारे में नेट पर या यू-टयूब पर सर्च कर सकते हैं । जिसमें खुद पाकिस्तानी बोल रहा है । इसके बारे में । SHARE IF U R A TRUE HINDU.
*************
उफ़ ! ये पति भी आज मुझे कुछ यूँ कहकर गए । 
मेरी प्यारी बेगम ! 
सवाल कुछ भी हो । जवाब तुम ही हो ।   
रास्ता कोई भी हो । मंजिल तुम ही हो ।  
दुख कितना ही हो । खुशी तुम ही हो ।  
आराम कितना ही हो । आरजू तुम ही हो ।  
गुस्सा कितना ही हो । प्यार तुम ही हो ।
ख्वाब कोई भी हो । तक़दीर तुम ही हो ।
यानि ऐसा समझो । फसाद कुछ भी हो ।
सारे फसाद की जड सिर्फ तुम । सिर्फ तुम ही हो ।
True Indian
*************
Today's Reality
Big House - Small Family
More Degrees - Less Common Sense

Advanced Medicine - Poor Health
Touched Moon - Neighbours Unknown
High Income - Less peace of Mind
High IQ -  Less Emotions
Good Knowledge -  Less Wisdom
Number of affairs -  No true love
Lot of friends on Facebook -  No best friend
More alcohol -  Less water
Lots of Human -  Less Humanity
Costly Watches -  But No time
*************
लोग हमारे बारे में क्या सोचते हैं ? अगर ये भी हम सोचेगें । तो फ़िर लोग क्या सोचेगें ? Dr Jagjit Singh Matharu
*************
ऐश्वर्य युक्तामुखी ­ प्रियंका चोपडा ।
क्या गजब का बनाया ऊपर वाले ने आपका थोबडा ।
तुम सबने " विश्व सुँदरी " का खिताब जीता ।
पर सच सच बता तुम्हारे साथ क्या क्या बीता ?
ऐश्वर्य राय तुमने  विश्व सुँदरी शब्द चुना है ।
विश्व सुँदरी का नाम तो तेरे बाप ने भी नहीं सुना है ।
विश्व सुँदरी का नाम सुनेगी तो । अपने आपको भूल जायेगी ।
विश्व सुँदरी का चरित्र सुनेगी । तो तेरी आँखें खुल जायेगी ।

विश्व सुँदरी बनने के लिये जमाने से जूझना पडता है । 
विश्व सुँदरी बनने के लिये धधकते अंगारो से कूदना पडता है ।
अरे विश्व सुँदरी तो वो  चित्तौड  की महारानी  पदमिनी थी ।  
जिसकी सुँदरता के आगे आइना तक टूट गया था । 
और पानी मेँ चेहरा देखा था अलाउद्दीन खिलजी  ने ।
उसके भी पसीना छूट गया था ।
तुम काहे की विश्व सुँदरी हो ।
तुम तो विदेशी कम्पनियों के इशारे पर नाचने वाली बँदरी हो ।
मुझे तो इस बात से होता है कष्ट ।
ये विश्व सुँदरी जिनके तन पर कम कपडे वो भी खस्त ।
इसलिये देश को विश्व सुँदरी प्रतियोगिता ।
के लिये करोडों रुपये नहीं खोना चाहिये ।
विश्व सुँदरी की जगह " झाँसी की रानी " बनाने की प्रतियोगिता होना चाहिये ।  साभार - जानी बैरागी
*************
है सो परमात्मा ( शाश्वत आत्मा ) हो रहा है प्रकृति में । मान रहा है सो जीव । अर्थात ये सब संसार आदि मन द्वारा माना ( कल्पित ) हुआ ही है । मन की रचना । वरना तुम्ही परमात्मा हो । जो जीवन की इच्छा से जीव ( 

आत्मा ) बनकर अपनी पहचान भूल गये हो । 
ईश्वर बृह्म जीव और माया । कैसा अदभुत खेल बनाया । 
दुनियां में फ़ंसकर वीरान हो रहा है । खुद को भूलकर हैरान हो रहा है । यानी सिर्फ़ तुम्हें अपनी पहचान जानने हेतु अमन ( अ-मन ) ही होना है ।
*************
ये कलियुग के आधुनिक गणेश जी का फ़ोटो मुझे किसी विदेशी प्रोफ़ायल या विदेशी प्रभावित देशी प्रोफ़ायल से मिला है । गौर से देखें । इसमें गणेश देवता कम कोई फ़ैशनेबल हस्ती अधिक लग रहे हैं । खासकर इनकी केश सज्जा, विलासिता दर्शाता बैठने का तरीका आदि आप स्वयं देख सकते हैं । खास इनके वक्ष पर पहनायी गयी ब्रा किस मानसिकता की द्योतक है ? हमारे धार्मिक रूप से अल्पशिक्षित युवा और विदेशियों पर भारतीय सनातन धर्म का ऐसे चित्र देखकर क्या असर होगा । सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है । फ़ोटो का लिंक
https://www.facebook.com/photo.php?fbid=224017407760293&set=at.102891286539573.6539.100004561056093.100004224001080&type=1&theater
*************
पैसा लगाओ बाल उगाओ । अंबानी गंजा क्यो ?
पैसा लगाओ गोरा बन जाओ । रजनीकांत काला क्यो ?
पैसा लगाओ लम्बाई बढ़ाओ । सचिन तेंदुलकर नाटा क्यों ?
पैसा लगाओ दुबला हो जाओ । गणेश आचार्य मोटा क्यों ?
पैसा लगाओ मर्दानगी पाओ । आउल गाँधी फिर कुँवारा क्यों ?
अपनी अक्ल लगाओ । झूठे विज्ञापन के झांसे में ना आओ ।
Vikram Bhagwat
*************
यह है भारत देश यहाँ के हिन्दू बड़े निराले हैं ।
कुछ ही रामचन्द्र के भक्त हैं । बाकी बाबर के साले हैं ।
लश्कर तोइबा की सेना में जितने दाढ़ी वाले हैं ।
उससे ज्यादा हरिद्वार में माला कंठी वाले हैं ।
पाकिस्तान में जितने घर हैं उतने यहाँ शिवाले हैं ।
फिर वन्दे मातरम क्यों नहीं कहते । क्या इनके मुँह में ताले हैं ?
हे नकली भक्तों भारत माँ के । तेरे प्राण भी जाने वाले हैं ।
क्योंकि अब हर घर से प्रज्ञा और पुरोहित आने वाले हैं ।
जय श्रीराम । दहाडो हिन्दुओ
*************
99% students do not know what to eat how to eat & Govt do not want " Healthy Food Education " in schools
99% student know about sex But still Govt want " SEX Education " in Schools नरेन्द्र सिसोदिया
एक टिप्पणी भेजें